Recent Post
 

Love Shayri In Hindi – लव शायरी इन हिंदी

Love Shayri In Hindi - लव शायरी इन हिंदी hindividhya.com

Love Shayri In Hindi – लव शायरी इन हिंदी। मेरे प्रिय दोस्तों आज सभी के लिए में इस पोस्ट में पेश कर रहा हूँ Love Shayri In Hindi यानि की लव शायरी इन हिंदी।

hindividhya.com पर हम प्यार भरी शायरिओं का सबसे बड़ा संग्रह एवं मोहब्बत शायरी हिंदी में सबसे बड़े संग्रहों hindividhya.com वेबसाइट पर डालते हैं। आप Love Shayri In Hindi – लव शायरी इन हिंदी को पढ़ें, और अपने पसंदीदा हिंदी मोहब्बत शायरी को फेसबुक, इंस्टाग्राम, गूगल प्लस और ट्विटर पर दोस्तों के साथ साझा करें।

Love Shayri In Hindi – लव शायरी इन हिंदी

रब को याद करूँ या याद करूँ उसे….!
मेरे जर्रे जर्रे में वो है….!
और कतरे कतरे में तुम हो….!

अगर तुम अजनबी थे….!
तो लगे क्यों नहीं…..!
और अगर मेरे थे..!
तो मुझे मिले क्यों नहीं….!

बाहों में भरके सुला दूँ तुझको…!
आ खुद से छुपा लूँ तुझको…!
भरी दुनिया में मुझसे ना मिलेगा कोई….!
ऐसा एक एहसास दिला दूँ तुझको….!

वो इत्र है जो बेबजह है इतराता है खुद पर…..!
हम तो आपके ख्यालों से ही महक जाते हैं…!

इश्क़ है या इबादत अब कुछ समझ नहीं आता….! Love Shayri In Hindi - लव शायरी इन हिंदी

इश्क़ है या इबादत अब कुछ समझ नहीं आता….!
एक खूबसूरत ख्याल हो तुम जो दिल से नहीं जाता….!

रंगो में घुली लड़की क्या लाल गुलाबी है…!
जो देखता है कहता है क्या माल गुलाबी है..!
पिछले बरस तूने जो भिगोया था होली में….!
अब तक निशानी का वो रुमाल गुलाबी है….!

तुम्हारी ज़िद बेमानी है…!
दिल ने हार कब मानी है….!
कर ही लेगा बश में तुम्हे,
आदत इसकी पुरानी है….!

मोहब्बत में टूटे तो फिर से सम्भालना नहीं आया…!
हमें सताने का सलीका उन्हें फिर बेहिसाब आया…!
उनसे बिछड़े है जबसे फिर जीना नहीं आया…!
मेरी किस्मत की तकदीर ही कुछ ऐसी है…!
उनसे किये वादों से, फिर मुस्कुराना नहीं आया…!

मेरे दिल मैं नहीं और कही पर रख दो……!
मेहंदी लए हो ले आओ हाथ पर रख दो…!
अब कहाँ ढूंढने जाओगे हमारी बेवफा……?
आप तो बेवफाई का इल्जाम हमी पर रख दो….!
उसने जिस ताख पर टूटे दिल रखे है…..!
इस अंगूठी को भी लेजा कर वंही पर रख दो….!

Romantic Shayari In Hindi

याद उसकी मुझको जब आई....! hindividhya

याद उसकी मुझको जब आई….!
बादलों ने ली अंगड़ाई….!
मानो मन में काली घटा सी झा गयी…..!
आँखों से आशु और बादलों से बरसात आ गयी…!

वो मोहब्बत भी क्या मोहब्बत है…..
जो मुकम्बल हो जाये…..!
वो दीवाना भी कोई दीवाना है…
जो हर हुशन को देख कर फिसल जाये….!

तुम्हारे दीदार की कीमत…अगर……! Love Shayri In Hindi - लव शायरी इन हिंदी

तुम्हारे दीदार की कीमत…अगर……!
मेरा खून होता….!
तो एक एक कतरा,
तुम्हारी एक एक झलक पर बहा देता…..!

या खुदा वो मुझ पर अहसान कर गयी….!
जो काम दावा न कर सकी…वो तेरी मुस्कान कर गयी…..!
बीमारी में मेरी सुधार हो रहा है….!
लगता है मुझको भी प्यार हो रहा है….!

हर बारिश शराब – ए – अर्श नहीं होती,
हर मौसम बरसात नहीं होती।
मिलने को तो मिलती बहुत है हशिनाए,
मगर हर हशीन से मोहब्बत – ए – गुफ़्तगू नहीं होती।
शराब – ए – अर्श (आकाशीय शराब)

हद पार करूँ तो रोक देना मुझे…!
गलत बात करूँ तो टोक देना मुझे…!
बस यूँ चुप बैठे न रहना….
जो ठीक लगे वो बोल देना मुझे….!

सुना है उनकी गलियों में बरसात बाकी है…! hindividhya

सुना है उनकी गलियों में बरसात बाकी है…!
उनकी मोहब्बत की एक रात बाकी है…!
गर करते है वो हमसे मोहब्बत…
तो उनसे प्यार की एक मुलाकात बाकी है…!

उन्हें चाहने की हसरते हज़ार थीं hindividhya

उन्हें चाहने की हसरते हज़ार थीं….!
उन्हें पाने की ख्वाहिशें जैसे एक ख्वाब थी….!
उनकी गली का सफर आज भी याद है मुझे…..!
में कोई साइंटिस्ट नहीं था मगर मेरी खोज लाजबाब थी….!

अब तो बस मेरी एक ही खुवाहिश है, की मैं….!
अपनी एक खुवाहिश की हर एक खुवाहिश पूरी करूँ….!

आज एक और बरस बीत गया उसके बगैर…..!
जिस के होते हुए होते थे ज़माने मेरे….!

Love Shayri Status In Hindi

मैं डरता नहीं हूँ फ़र्ज़ से….
बस डरता हूँ क़र्ज़ से…!
माना कि मर जाते है लोग जुदाई की मर्ज़ से …. लेकिन
एक बार प्यार करने में क्या हर्ज़ से…!

रूह भी गिरवी रख दी है हमने उनकी चाहत में ….! hindividhya

रूह भी गिरवी रख दी है हमने उनकी चाहत में ….!
अब उनके सिवा कौन समां सकता है इस दिल में ….!
एक बार इन आँखों ने उनके हुशन का दीदार क्या कर लिया,
अब उनके सिवा किसी की सूरत बनती हे नहीं आँखों में …!

मेरे इश्क़ से मिली है, उन्हें हुशन की ये शोहरत !
उनका ज़िक्र ही कहाँ था, मेरी दीवानगी से पहले !
लोग मुझे समझते है बेवफा,
कोई उनको अब्तर कहता ही कहा था मेरे दफ़न से पहले !
अब्तर :- प्यार में पागल

उस रोज जिस महखाने मैं तू आयी थी…..!
वो महफ़िल हमने सजाई थी…!
जिसने तुझे पिलाया था प्यार का जाम….
तू उसी का गिलास तोड़ आयी थी….!

मुझे प्यार करना कहाँ आता था तुमसे ही सीखा था प्यार करना….!
इस दिल को धड़कना कहाँ आता था तुमने सिखाया था इसे धड़कना….!
जब तू दूर गयी तब खुद ही सीख गया था बैचेन होना…!
बस जैसे करती हो नजरअन्दाज मुझे हमें भी सिखा दो यूँ नजरअंदाज करना….!

ना दारू है, न दवा है, फिर भी देखकर नशा चढ़ जाये तू वो शराब है…..!
ना चाँद की चांदनी है, ना तारों की चमक है… फिर भी तेरा हुशन लाजवाब है…!
न महीनो की गिनती है, न सालों का हिसाब है…!
तू निकली बेवफा फिर भी, मोहब्बत तुझसे बे-पनाह, बे-हिसाब है…!

अपने हर इक लफ़्ज़ का ख़ुद आईना हो जाऊँगा
उसको छोटा कह के मैं कैसे बड़ा हो जाऊँगा ?
सारी दुनिया की नज़र में है मेरी अह्द—ए—वफ़ा
इक तेरे कहने से क्या मैं बेवफ़ा हो जाऊँगा?

कभी उनकी याद आती है…!
कभी उनके ख्वाब आते है…!
हमें सताने के सलीके उन्हें बेहिसाब आते है…!

Pyar Bhari Shayari In Hindi – प्यार भरी शायरी इन हिंदी

अपने हर इक लफ़्ज़ का ख़ुद आईना हो जाऊँगा
उसको छोटा कह के मैं कैसे बड़ा हो जाऊँगा ?
सारी दुनिया की नज़र में है मेरी अह्द—ए—वफ़ा
इक तेरे कहने से क्या मैं बेवफ़ा हो जाऊँगा?

तेरी हर अदा मोहब्बत सी लगती है…!
एक पल की भी जुदाई मुद्दत सी लगती है…!
पहले नहीं सोचा था अब सोचने लगे हैं…!
जिंदगी में हर पल तेरी ज़रूरत सी लगती है…!

नाम लेके महबूब का दीवानों ने आज जाम पिया है…..!
ये भी न सोचा की मोहब्बत का अंजाम क्या है….!
यूँ तो रोशन करता है हर दिया ज़माने को,
लेकिन प्यार वो दिया है जिसने हिंदुस्तान को रोशन किया है….!

मोहब्बत नहीं है कोई किताबों की बाते….!
समझोगे जब रो कर कुछ काटोगे रातें….!
जो चोरी हो गया तो पता चला दिल था हमारा,
करते थे हम भी कभी किताबों की बातें…..!

जिंदगी मुझसे कुछ बड़ा चाहती है…!
वो क्या चाहती है ये वो जाने….
मैं तो उससे दिल लगाता हूँ वो क्या लगाती है ये वो जाने….!
मैं तो उनसे मोहब्बत करता हूँ वो क्या करती है ये वो जाने…!
इसके अलावा याक और भी है मेरे पास सच्ची मोहब्बत….
मेरी माँ की मोहब्बत…..!
मैं भी करता हूँ और वो भी करती है…
ये मैं भी जानू और वो भी जाने……!

तुम्हारे बिन एक पल भी धड़कता नहीं हैं दिल,
अब चले आईये..!
आंसुओं के संग गुंजारती हैं रातें,
अब चले आईये…!
तुम्हारे इन्तजार में जिन्दा है ये दिल,
बड़ा सताती है तुम्हारी यादें,
अब चले आईये..!

Love Quotes In Hindi – लव कोट्स इन हिन्दी

बरसों पहले उससे दिल लगाया था मैने,
मुझसे हमेशा मेरे दोस्त मेरी खुशी का राज पूछते रहे…!
कल रात उसको ख्वाब में गले लगाया थे मेने,
आज दिन भर मेरे दोस्त मेरी महक का राज़ पूछते रहे…!

तेरा महकता हुआ जिस्म जैसे कोई गुलाब है…!
तन्हाई भरी रात के सफर में जैसे कोई ख्वाब है….!
बस दो घूँट पी लेने दे इन आँखों की मस्तियाँ,
नशा तेरी आँखों का जैसे कोई जाम- ए -शराब है…!

मैं तोड़ लेता उसे अगर वो फूल- ए -गुलाब होती…!
मैं उनके लिए ताज महल बनबाता अगर वो मालिका- ए -हुशन मुम्ताज होती…!
सभी जानते हैं मुझे, मैं नशा नहीं करता,
मैं फिर भी पी लेता अगर वो शराब होती….!

खोया हूँ तुम्हारे ख्यालों में ज़माने का कोई होश नहीं….!
ना समझो मुझे दीवाना इतना भी में मदहोश नहीं….!
चला तेरा जादू कुछ ऐसा धड़कन मेरी खामोश हैं…!
नजरे बन गयी अब तेरी मुझमे इनका आघोश नहीं…!

अब तो तुझे देखने को तरसती है ये आँखें…!
याद में तेरी बरसती है ये आँखें….!
मेरे लिए न सही इन्हीं के लिए आजा….!
तेरा बेपनाह इंतज़ार करती हैं ये आँखें….!

अपनी बाँहों में छुपालो मुझको…!
अपनी मोहब्बत से चुरलो मुझको….!
रखेंगे तेरा ख्याल हमेशा ही हम,
अपने दामन का दुपट्टा बना लो मुझको….!
अपनी धड़कने भी तेरे नाम कर देंगे है हम,
बस अपने दिलकी धडकनों में बसा लो मुझको…!

दोस्तों ने मोहब्बत से रोज पिलाया जाम,
फिर भी नशा न हो पाया…!
उन्होंने एक बार मोहब्बत से नज़रे क्या मिलायी,
अभी तक होश में न आ पाया…!

Mohabbat Shayari In Hindi – मोहब्बत शायरी हिंदी में

वो घायल कर गये इस दिल को,
अपने हुशन के काले तिल से…!
या खुदा इन हसीनाओं के हुशन दे पर काला तिल न दे,
अगर तिल दे तो हमे ये दिल न दे…!

हर बारिश शराब – ए – अर्श नहीं होती,
हर मौसम बरसात नहीं होती।
गहराई तो सागर में भी बहुत है,
मगर – ए – हशीन तेरे नैनों की जैसी गहराई नहीं होती।
शराब – ए – अर्श (आकाशीय शराब)

इश्क़ मैं इजहार का इशारा भी नहीं किया…!
फैसला बिछड़ने का गवारा भी नहीं किया….!
महबूब तेरी मोहब्बत को समझना काम मुश्किल का…!
सहारा भी नहीं दिया, किनारा भी नहीं किया…..!

ऐ हसीन बस एक बार दिखाकर चली जाओ झलक अपनी…!
हम जलवा-ऐ-पेगाम के तलबगार ही कहाँ हैं…!
जलवा-ऐ-पेगाम = लगातार देखते रहना
तलबगार = अभिलाषी, ख़्वाहिशमंद

बड़ी अजब आरजू है इस दिवाने की,
खुशबू बनकर उनके सांसो में समा जाने की।
धड़कन बनकर उनके दिल में धड़कना चाहता हूँ,
उनको उन्हीं से मांगना चाहता हूँ।

वो कहती हैं लेती हूँ में बदला अपनी हर एक बात का..!
हम भी आजमाएंगे कभी उनके होठों को चूम कर..!

महलो की हमने सजावट भी देखी….!
बाजारों की हमने गिरावट भी देखी….!
यूँ तो देखा अमन ने बहुत कुछ….
मगर…. ऐ हंसी…..!
तेरे चहरे की जैसी बनाबट न देखी….!
शरीफों की हमने शराफत भी देखी…..!
डकैतों के हमने बगाबत भी देखी…..!
यूँ तो देखा अमन ने बहुत कुछ….
मगर….ऐ हँसी…..!
तेरी नैनो की जैसी नज़ाक़त ना देखी…..!

Note:- यदि आपके पास ऐसी कोई भी शायरी है जो आपने अपने लव के लिए लिखी हो तो हमें कमेंट बॉक्स में अपने नाम के साथ लिखकर भेजिए जिसे हम आपके नाम के साथ पब्लिश करेंगे।

Love Shayri In Hindi – लव शायरी इन हिंदी से सम्बंधित अन्य शायरी

प्रिय दोस्तों, में आशा करता हूँ की आपको Love Shayri In Hindi – लव शायरी इन हिंदी को पढ़कर अच्छा लगा होगा। Love Shayri In Hindi – लव शायरी इन हिंदी ने आपको आनन्दित किया होगा।

आप हमें कमेंट करके बताएं कि आपको Love Shayri In Hindi – लव शायरी इन हिंदी की इतनी शायरियों में से कौन सी  शायरी पसंद आई। यदि आपको इस Love Shayri In Hindi – लव शायरी इन हिंदी की पोस्ट से सम्बंधित कोई भी समस्या है तो आप हमे Comments करके पूछ सकते है।

hindividhya.com पर हम प्यार भरी शायरिओं का सबसे बड़ा संग्रह एवं मोहब्बत शायरी हिंदी में सबसे बड़े संग्रहों hindividhya.com वेबसाइट पर प्रतिदिन डालते हैं। आप Love Shayri In Hindi – लव शायरी इन हिंदी को पढ़ें, और अपने पसंदीदा हिंदी मोहब्बत शायरी को फेसबुक, इंस्टाग्राम, गूगल प्लस और ट्विटर पर दोस्तों के साथ साझा करें।

Share This Post On

2 responses to “Love Shayri In Hindi – लव शायरी इन हिंदी”

  1. bahut khub shayri ka sangrah hai . kya baat hai .

    jajagrannews.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *